आरबीएसई ने क्रेडिट कार्ड धारकों के लिए जारी किया नया नियम, सभी की होगी मौज

Credit Card New Rules : क्रेडिट कार्ड धारकों के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी है, क्योंकि रिजर्व बैंक आफ इंडिया ने क्रेडिट कार्ड से संबंधित एक बहुत बड़ा नियम लागू किया है। इस नियम के कारण क्रेडिट कार्ड धारकों को लाभ होने वाला है। दरअसल इस नियम के माध्यम से क्रेडिट कार्ड होल्डर को बिलिंग साइकल को बदलने की अनुमति दे दी गई है।

इस नियम के अनुसार क्रेडिट कार्ड धारक एक बार नहीं बल्कि कई बार बिलिंग साइकल को बदल सकता है। इस नियम के आने से क्रेडिट कार्ड धारक को बकाया राशि जमा करने में भी राहत मिलेगी। इसी के साथ कार्ड धारक को क्रेडिट कार्ड से संबंधित अन्य लाभ भी मिलेंगे। इसी के साथ कार्ड धारक को बिलिंग पेमेंट में लगने वाले ब्याज पर भी भारी राहत प्राप्त होगी।

विषय सूची

Credit Card New Rules क्या है?

क्रेडिट कार्ड के नए नियम को समझने से पहले आप इसके पहले के नियम को समझिए। दरअसल पहले क्रेडिट कार्ड का यह नियम था, कि महीने की 6 तारीख को बिल साइकल कंप्लीट हो जाती थी। इसकी अगली साइकिल 7 तारीख को शुरू होती थी। लेकिन अब रिजर्व बैंक आफ इंडिया ने इसका नियम बदल दिया है। अब से क्रेडिट कार्ड धारक बिलिंग साइकल को बदल सकता है, वह जिस तारीख को चाहे उस तारीख से बिलिंग साइकल शुरू कर सकता है।

क्रेडिट कार्ड के नए नियम का लाभ

  • इस नियमानुसार एक ही तारीख पर क्रेडिट कार्ड के माध्यम से अलग-अलग पेमेंट किया जा सकता है।
  • इसी के साथ ब्याज से मुक्त समय सीमा को भी बढ़ाया जाना संभव है।
  • इस नियम से कार्ड धारक अपनी सुविधा अनुसार बिल पेमेंट की तारीख निश्चित कर सकता है। दरअसल जब भी कार्ड धारक के पास नगद पेमेंट होगा तब वह तारीख निश्चित करेगा।
  • इस नियम के लाभ से कार्ड धारक को बिल पेमेंट जमा करने में राहत मिलेगी।

क्रेडिट कार्ड में नए नियमानुसार कैसे करें बदलाव

  • इस नियम का लाभ लेने के लिए सबसे पहले आपको पिछला बकाया पेमेंट जमा करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको क्रेडिट कार्ड कंपनी से मोबाइल नंबर या फिर ईमेल आईडी के जरिए बिलिंग साइकिल में बदलाव के लिए जानकारी प्राप्त करनी होगी।
  • इसी के साथ आप जिस बैंक के क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कर रहे हैं, यदि उसका एप्लीकेशन है तो उसके माध्यम से भी क्रेडिट कार्ड बिलिंग साइकल में बदलाव कर सकते हैं।
  • इसके अलावा आप सीधे बैंक के माध्यम से भी क्रेडिट कार्ड सुविधा प्राप्त कर पाएंगे।

क्रेडिट कार्ड बिलिंग साइकल क्या है?

दरअसल क्रेडिट कार्ड के माध्यम से जो भी शॉपिंग या पेमेंट किया जाता है। उसकी बिलिंग महीने की 6 तारीख को निश्चित की गई है। इसके पश्चात अगली 7 तारीख को नया महीना शुरू हो जाता है। क्रेडिट कार्ड के द्वारा की जाने वाली महीने की बिलिंग को ही, क्रेडिट कार्ड बिलिंग साइकल कहते हैं। इसी के साथ क्रेडिट कार्ड के माध्यम से 30 दिनों के अंदर किए गए लेन-देन की सारी जानकारी को क्रेडिट कार्ड के बिल अकाउंट पर दिखाया जाएगा।

₹10000 की लागत से शुरू करें मोमोज का बिजनेस, होगी लाखों की कमाई

क्रेडिट कार्ड के नए नियम से कस्टमर्स पर क्या प्रभाव पड़ेगा

अभी तक क्रेडिट कार्ड धारक के क्रेडिट कार्ड बिलिंग साइकल को बैंक एवं कंपनियों के द्वारा निश्चित किया जाता था। लेकिन आरबीआई के द्वारा जारी किए गए नए नियम के अनुसार, अब से यह समय सीमा कस्टमर के द्वारा निश्चित की जाएगी। जिससे कार्ड धारकों को राहत मिलेगी, दरअसल कार्ड धारक इस समय सीमा को अपनी आर्थिक स्थिति के अनुसार चुन सकेंगे।

इस नियम के आने से पहले कार्ड धारकों के लिए समय पर बिल पेमेंट को जमा करना मजबूरी थी। लेकिन अब से कार्ड धारक बिल पेमेंट जमा करने की तारीख को स्वयं सुनिश्चित कर पाएंगे। जिससे उनकी एक अलक बिलिंग साइकल बन जाएगी।

क्रेडिट कार्ड से निम्नतम पेमेंट करने से बचें

यदि कार्ड धारक क्रेडिट कार्ड के माध्यम से निम्नतम पेमेंट करने से बचेंगे तो उनको लाभ प्राप्त होगा। दरअसल क्रेडिट कार्ड कंपनियां एवं बैंके बकाया पेमेंट चुकाने के साथ-साथ निम्नतम पेमेंट का विकल्प देते हैं। यदि कार्ड धारक इस विकल्प के माध्यम से निम्नतम पेमेंट कर देते हैं, तो ब्याज की समय सीमा कम हो जाती है अर्थात क्रेडिट कार्ड की पेमेंट पर ब्याज शुरू हो जाता है।

इसलिए एक्सपर्ट के अनुसार, जब तक की बकाया पेमेंट को तारीख से चुकाया ना जा सके तब तक निम्नतम पेमेंट का इस्तेमाल बिल्कुल भी ना करें। इस निम्नतम पेमेंट के न होने पर सभी कार्ड धारकों को भारी लाभ होने वाला है। जिससे क्रेडिट कार्ड की ब्याज समय सीमा को बढ़ाया जाना भी संभव हो सकेगा।

टिशू पेपर बनाकर कमाएं लाखों रुपए, जानें व्यवसाय से संबंधित सम्पूर्ण जानकारी

क्रेडिट कार्ड की बिल तारीख बदल जाएगी

यदि क्रेडिट कार्ड की बिलिंग साइकल को बदला जाता है, तो देय भुगतान में भी परिवर्तन हो जाएगा। इस देय भुगतान की तारीख लगभग 15 से 20 दिन की होती है, इसी के साथ 30 दिन का बिलिंग चक्र होता है। जिससे लगभग 50 दिनों की समय सीमा तक भुगतान करने पर कार्ड धारक को कोई भी अतिरिक्त ब्याज या शुल्क नहीं देना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Mp24News © 2024 Frontier Theme