अब डीएलएड कोर्स होगा बंद, शिक्षक भर्ती के लिए करें 4 वर्षीय नया कोर्स

Deled Course Closed : यदि आप शिक्षक बनना चाहते हैं तो आपके लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण सूचना है। दरअसल हाल ही में शिक्षा विभाग के द्वारा शिक्षक भर्ती से संबंधित कोर्सेस में बदलाव करने का ऐलान किया गया है। वर्तमान में शिक्षक भर्ती के लिए डीएलएड एवं b.ed जैसे कोर्स हैं, जिनके माध्यम से शिक्षक भर्ती कराई जाती है। लेकिन अब डीएलएड कोर्स बंद होने वाला है।

भारत में बहुत से ऐसे राज्य हैं, जिनके द्वारा डीएलएड कोर्स को चलाया गया था। लेकिन अब यह कोर्स जल्द ही बंद होने वाला है। क्योंकि एनटीपीसी के द्वारा 4 साल का कोर्स आईटीईपी को शुरू किया जाएगा। जिसके माध्यम से शिक्षक भर्ती की जाएगी। इसी के साथ आपकी जानकारी के लिए बता दें, की इस कोर्स के साथ बहुत से अन्य लाभ भी प्राप्त होंगे।

विषय सूची

Deled Course Closed का संक्षिप्त परिचय

केंद्रीय शिक्षा विभाग के द्वारा डीएलएड कोर्स को बंद करने की सूचना जारी की गई है। दरअसल डीएलएड कोर्स 2 साल का कोर्स है, जिसके माध्यम से चार सेमेस्टर का आयोजन किया जाता है। इस कोर्स के द्वारा उम्मीदवार शिक्षक भर्ती देख सकता है। डीएलएड कोर्स एक डिप्लोमा कोर्स है, जिसको स्नातक की श्रेणी में नहीं रखा गया है। इसलिए इसके माध्यम से उम्मीदवार सिर्फ शिक्षक का प्रशिक्षण ही प्राप्त करता है।

इसी के साथ आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस कोर्स को सरकार के द्वारा जल्द ही बंद करने के आदेश दिए गए हैं। इसीलिए यदि आप डीएलएड कोर्स को करने का प्लान बना रहे हैं, तो इससे संबंधित आने वाली नई अपडेट पर अवश्य अपना ध्यान दें क्योंकि यह कभी भी बंद हो सकता है।

डीएलएड कोर्स कब तक बन्द हो जाएगा?

डीएलएड कोर्स के बंद होने से संबंधित पहली सूचना साल 2023 के अंत में सूचित की गई थी। इसीलिए यह अनुमान लगाया जा रहा है, कि यह कोर्स साल 2024- 25 के सेशन के बाद बंद हो जाएगा अर्थात यह वर्ष इस कोर्स का अंतिम वर्ष है। लेकिन कुछ रिपोर्ट के अनुसार, यह माना जा रहा है कि इस कोर्स को साल 2027-28 के सेशन में बंद करने की व्यवस्था की गई है।

हालांकि झारखंड राज्य में यह कोर्स बंद हो चुका है, वहीं बिहार एवं उत्तर प्रदेश जैसे अन्य राज्य भी जल्द ही इसको बंद कर देंगे। लेकिन इससे पहले आईटीईपी कोर्सेस को संस्थानों में शुरू करने की व्यवस्था की जा रही है।

श्रीराम फाइनेंस कंपनी दे रही बिना गारंटी के 15 लाख तक का पर्सनल लोन

डीएलएड बंद होने के बाद शिक्षक भर्ती कैसे होगी?

डीएलएड कोर्स के बंद हो जाने के बाद शिक्षा विभाग के द्वारा शिक्षक भर्ती हेतु आईटीईपी (ITEP ) कोर्स को शुरू करने की व्यवस्था की गई है। दरअसल अब से प्राइमरी एवं अपर प्राइमरी की सभी शिक्षक भर्ती आईटीईपी के प्रशिक्षण के बाद ही देख सकते हैं। इसी के साथ आपको बता दें कि उच्च शिक्षक भर्ती के लिए भी आईटीईपी के प्रशिक्षण प्रोग्राम को लांच किया जाएगा।

दरअसल डीएलएड बंद करके आईटीईपी “इंटीग्रेटेड टीचर एजुकेशन प्रोग्राम” को शुरू करने का उद्देश्य उम्मीदवारों को शिक्षक बनने के लिए योग्यता प्रदान करना है। जिसके माध्यम से शिक्षा के क्षेत्र में बेहतरीन शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया जा सके। इस कोर्सेस के लिए प्रत्येक विश्वविद्यालय में लगभग 50 सीटों को बढ़ाया जाएगा। इसके लिए विश्वविद्यालय को शिक्षा विभाग की कुछ शर्तें माननी होंगी। जिसमें जमीन एवं बिल्डिंग से संबंधित शर्तें शामिल हैं।

स्टेट बैंक महिलाओं को दे रहा है 25 लाख का लोन, ऐसे करें आवेदन

आईटीईपी (ITEP) क्या है?

आईटीईपी “इंटीग्रेटेड टीचर एजुकेशन प्रोग्राम” है, जिसके माध्यम से शिक्षक भर्ती के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा। यह चार वर्षीय शिक्षक प्रोग्राम है, जो कि स्नातक स्तर का है अर्थात इस कोर्स को करने के पश्चात स्नातक डिग्री प्राप्त होगी। इस कोर्स के माध्यम से उम्मीदवार प्राइमरी से लेकर अपर प्राइमरी एवं उच्च प्राइमरी शिक्षक भर्ती में शामिल हो सकता है।

इसके अलावा इस कोर्स के प्रशिक्षण को सेमेस्टर के अनुसार विभाजित किया गया है। दरअसल यह पूरा कोर्स 4 साल का है, इसीलिए इसमें कुल आठ सेमेस्टर होने वाले हैं। यह स्नातक कोर्स शिक्षक प्रशिक्षण के आधार पर आधारित है। जिसके माध्यम से उम्मीदवारों को एक बेहतरीन शिक्षक बनाने के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा।

डीएलएड कोर्स के बंद हो जाने पर शिक्षा को कैसे बहाली मिलेगी?

डीएलएड कोर्स के बंद हो जाने के बाद आईटीईपी कोर्स के माध्यम से शिक्षा को बहाली मिलेगी। दरअसल यह एक ऐसा कोर्स है, जो की पूर्णता शिक्षक प्रशिक्षण पर आधारित होने वाला है –

  • डीएलएड कोर्स एक डिप्लोमा कोर्स है, लेकिन आईटीईपी एक स्नातक स्तर का कोर्स है।
  • इसके अलावा डीएलएड के माध्यम से सिर्फ शिक्षक भर्ती में शामिल हो सकते हैं, लेकिन आईटीईपी के द्वारा अन्य शिक्षक भर्ती को भी देख सकते हैं।
  • डीएलएड कोर्स दो वर्षीय होने के कारण शिक्षा हेतु पूर्ण प्रशिक्षण देने में असमर्थ है, लेकिन आईटीईपी 4 वर्षीय कोर्स है।
  • प्राइमरी एवं उच्च प्राइमरी शिक्षक भर्ती के लिए डीएलएड के साथ b.ed होना भी आवश्यक है। लेकिन आईटीईपी के माध्यम से शिक्षा के क्षेत्र की सभी भर्तियों को देख सकते हैं।
  • डीएलएड कोर्स के बंद हो जाने के पश्चात आईटीईपी कोर्स शिक्षक भर्ती को बहाली प्रदान करेगा। क्योंकि इसके माध्यम से शिक्षक भर्ती की प्रक्रिया बहुत आसान हो जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Mp24News © 2024 Frontier Theme